Sadqa bhi de diya hai

Sadqa bhi de diya hai

सदक़ा भी दे दिया है नज़र भी उतार दी,
दौलत सुकूनो चैन की सब मुझपे वार दी,
कल शाम मैंने क्या कहा तबीयत ख़राब है,
माँ ने तमाम रात दुआ में गुज़ार दी!

Sadqa Bhi De Diya Hai Nazar Bhi Utar Di,
Dault Sukuno Chain Ki Sab Mujhpe Vaar Di,
Kal Sham Maie Kya Kaha Tabiyat Kharab Hai,
Maa Ne Tamam Raat Dua Mein Guzaar Dee.

Also Read: Hindi Shayari

मेरे दूध का कर्ज़

मेरे दूध का कर्ज़ मेरे ही खून से चुकाते हो,
कुछ इस तरह तुम अपना पौरुष दिखाते हो,
दूध पीकर मेरा तुम इस दूध को ही लजाते हो,
वाह रे पौरुष तेरा तुम खुद को पुरुष कहाते हो,
हर वक्त मेरे सीने पर नज़र तुम जमाते हो,
इस सीने में छुपी ममता क्यों देख नहीं पाते हो,
इक औरत ने जन्मा, पाला-पोसा है तुम्हें,
बड़े होकर ये बात क्यों भूल जाते हो,
तेरे हर एक आँसू पर हज़ार खुशियाँ कुर्बान कर देती हूँ मैं,
क्यों तुम मेरे हजार आँसू भी नहीं देख पाते हो,
हवस की खातिर आदमी होकर क्यों नर पिशाच बन जाते हो,
हमें मर्यादा सिखाने वालों तुम अपनी मर्यादा क्यों भूल जाते हो,
हमें मर्यादा सिखाने वालों तुम अपनी मर्यादा क्यों भूल जाते हो।

Also Read: Hindi Shayari

Nahi Ho Sakta Kad Tera

Nahi Ho Sakta Kad Tera Uncha Kisi Bhi Maa Se Ai Khuda,
Tu Jise Aadmi Banata Hai Woh Use Insaan Banati Hai.

नहीं हो सकता कद तेरा ऊँचा किसी भी माँ से ए खुदा,
तू जिसे आदमी बनाता है, वो उसे इन्सान बनाती है।

Also Read: Romantic Shayari For Girlfriend

Bahut Bura Ho Phir Bhi

Bahut Bura Ho Phir Bhi Usko Bahut Bhala Kahti Hai,
Apna Ganda Bachcha Bhi Maa Dhoodh Ka Dhula Kahti Hai.

बहुत बुरा हो फिर भी उसको बहुत भला कहती है
अपना गंदा बच्चा भी माँ दूध का धुला कहती है।

Also Read: Hindi Shayari

Khuda Ne Yeh Sifat Duniya

Khuda Ne Yeh Sifat Duniya Ki Har Aurat Ko Bakhshi Hai,
Ke Woh Paagal Bhi Ho Jaye Toh Bete Yaad Rehte Hain.

ख़ुदा ने ये सिफ़त दुनिया की हर औरत को बख्शी है,​
कि वो पागल भी हो जाए तो बेटे याद रहते है​​।

Also Read: Sad Shayari

Kisi Bhi Mushkil Ka Ab

Kisi Bhi Mushkil Ka Ab Kisi Ko Hal Nahi Milta,
Shayad Ab Ghar Se Koi Maa Ke Pair Chhukar Nahi Nikalta.

किसी भी ​मुश्किल का अब किसी को हल नहीं मिलता,
​शायद अब घर से कोई माँ के पैर छूकर नहीं निकलता​।

Also Read: Sad Love Shayari

Kaunsi Hai Wo Chij Jo

कौन सी है वो चीज़ जो यहाँ नहीं मिलती,
सब कुछ मिल जाता है लेकिन “माँ” नहीं मिलती…
माँ-बाप ऐसे होते हैं दोस्तों जो ज़िन्दगी में फिर नहीं मिलते,
खुश रखा करो उनको फिर देखो जन्नत कहाँ नहीं मिलती.

Kaun See Hai Vo Cheez Jo Yahaan Nahin Milatee,
Sab Kuchh Mil Jaata Hai Lekin “maan” Nahin Milatee…
Maan-baap Aise Hote Hain Doston Jo Zindagee Mein Phir Nahin Milate,
Khush Rakha Karo Unako Phir Dekho Jannat Kahaan Nahin Milatee.

Also Read: Sad Shayari In Hindi With Image

Maa Se Rishta Kuch Aisa

माँ से रिश्ता कुछ ऐसा बनाया
जिसको निगाहों में बिठाया जाए
रहे उसका मेरा रिश्ता कुछ ऐसा की
वो अगर उदास हो तो हमसे भी मुस्कुराया न जाये.

Maa Se Rishta Kuchh Aisa Banaaya
Jisako Nigaahon Mein Bithaaya Jae
Rahe Usaka Mera Rishta Kuchh Aisa Kee
Vo Agar Udaas Ho To Hamase Bhee Muskuraaya Na Jaaye.

Also Read: Sad Shayari Pic